खेल के मैदान में आने वाली है ‘स्मार्टबॉल’, जानिए क्या है इस गेंद की खासियत

खेल को और बेहतर बनाने के लिए आईसीसी आए दिन नए नए बदलाव कर रहा है। क्रिकेट को और निखारने के लिए यह बदलाव करें जा रहे है। जैसे कि एक समय थर्ड अंपायर रन आउट और करीबी कैच का फैसला लाल-हरी बत्ती जलाकर करते थे, लेकिन अब इसकी जगह स्टेडियम में लगी बिग स्क्रीन ने ले ली है। इस विशालकाय टीवी में आउट या नॉटआउट लिख कर फैसला किया जाता है।

अभी तक बल्लेबाज़ों को इन् तकनीकियों का ज्यादा लाभ मिल रहा था लेकिन अब आई नई तकनीक से गेंदबाज़ो को लाभ मिल सकता है। खबरों के मुताबिक सेंसर वाले बल्लो के बाद अब क्रिकेट को माइक्रोचिप वाली गेंद मिलने जा रही है।

आखिर क्या है ‘स्मार्टबॉल’

मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो अब इस बॉल का इस्तेमाल पहली बार ऑस्ट्रेलिया की मशहूर बिग बैश लीग में किया जाएगा। गेंद का निर्माण करने वाली ऑस्ट्रेलियाई कंपनी कूकाबुरा इसे कार्य रूप में प्रैक्टिस करने के लिए तैयार हो चुकी है। कई खूबिया की वजह से इस गेंद को ‘स्मार्टबॉल’ कहा जा रहा है। stuff.co.nz.के मुताबिक कूकाबुरा गेंद को प्रयोग करने के आखिरी पड़ाव पर है।

मेलबर्न की कंपनी कूकाबुरा ने रियल टाइम डेटा प्रदान करने के लिए गेंद में एक माइक्रोचिप लगाई है, जिसे ‘स्मार्टबॉल’ कहा गया है । रिपोर्ट्स की माने तो इस गेंद में एक ट्रैकर से लैस होती है, जो फेंकते ही डेटा प्रदान करेगी । इसमें रिलीज पॉइंट पर स्पीड मैट्रिक्स, प्री-बाउंस और पोस्ट-बाउंस शामिल हैं। इस गेंद के आने के बाद अंपायर्स को डिसीजन रिव्यू सिस्टम (डीआरएस) में मदद मिलेगी। इस गेंद के आने से संदिग्ध परिस्थितियों या बैट-पैड के उदाहरणों में गेंद के प्रभाव बिंदुओं को निर्धारित किया जा सकेगा, जिससे स्पिन गेंदबाजी के दौरान फैसला लेने में मदद मिलेगी और फैसला भी सटीक होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *