शर्मनाक: पश्चिम बंगाल की रहने वाली नाबालिग लड़की के साथ गैंगरेप

minor girl raped by father ad uncle

 दिल्ली पुलिस ने अंकित चौधरी और रवि नाम के दो लड़कों को गैंगरेप के आरोप में गिरफ्तार किया है. दोनों ने मिलकर पश्चिम बंगाल की रहने वाली एक नाबालिग लड़की के साथ गैंगरेप की घिनौनी वारदात को अंजाम दिया था.

दरअसल, मंगलवार दोपहर मोती नगर पुलिस को ESI अस्पताल के गार्ड ने एक लड़की के बारे में सूचना दी, जो घबराई हुई अस्पताल के पास एक सुनसान जगह पर खड़ी थी. लड़की अपने बारे में कुछ भी नहीं बता पा रही थी. पुलिस तुरंत मौके पर पहुंची और लड़की की कॉउंसलिंग की गई.

लड़की ने बताया कि वो पश्चिम बंगाल की रहने वाली है और 3 महीने पहले दिल्ली में अपने एक रिश्तेदार के यहां आई थी. लड़की के रिश्तेदार ने उसे एक घर में काम पर लगवा दिया था. पुलिस के मुताबिक 9 सितंबर को सुबह करीब 9 बजे लड़की घर का कुछ समान लेने घर से बाहर आई थी.

रास्ते में उसे दो लड़के मिले, दोनों ने नाबालिग लड़की से बातचीत शुरू की और बातों ही बातों में लड़की से दोस्ती कर ली. इतना ही नहीं दोनों ने लड़की को ये लालच दिया कि वो उसकी नौकरी कहीं और लगवा देंगे जहां उसे रहने को घर और ज्यादा पैसे मिलेंगे. लड़की दोनों के झांसे में आ गई, इसके बाद दोनों लड़की को मोती नगर इलाके में ESI अस्पताल के पास एक सुनसान जगह पर ले गए जहां दोनों ने उस नाबालिग लड़की के साथ बारी-बारी से बलात्कार किया और फिर फरार हो गए.

पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेते हुए गैंगरेप का मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू की. पुलिस ने दोनों लड़को को पकड़ने के लिए एक टीम बनाई. आसपास के सभी सीसीटीवी फुटेज को खंगालने का काम शुरू किया गया. लोकल लोगों से पूछताछ की गई, लड़की ने उन लड़कों का जो हुलिया बताया था .

उसके आधार पर जांच को आगे बढ़ाया गया और कड़ी मशक्कत के बाद पुलिस ने अंकित चौधरी और रवि नाम के दो लड़कों को गिरफ्तार किया. पूछताछ में दोनों ने अपना जुर्म कुबूल कर लिया है. पुलिस की मानें तो अंकित बेरोजगार है और रवि मजदूर है. फिलहाल दोनों से पूछताछ जारी है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *